Friday, 1 February 2019

BHARAT Vijayi Bhava Lyrics - भारत | Manikarnika | Shankar Mahadevan

भारत ये रहना चाहिए


देश से है प्यार तो
हरपल यह कहना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

देश से है प्यार तो
हरपल यह कहना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

सिलसिला ये बाद
मेरे यूँ ही चलना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

मेरी नश नश तार कर दो
और बना दो एक सितार
राग भारत मुझपे छेड़ो
झन-झनाओ बार बार

देश से ये प्रेम
आँखों से छलकना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

देश से यह प्रेम
आँखों से छलकना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत यह रहना चाहिए

शत्रु से कह दो ज़रा
सीमा में रहना सीख ले
ये मेरा भारत अमर है
सत्य कहना सीख ले

भक्ति की इस शक्ति को
बढ़कर दिखना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

है मुझे सौगंध भारत
सौगंध भारत है मुझे
भूलूँ ना एक छन तुझे
हम्म..
रक्त की हर बूँद तेरी

है तेरा अर्पण तुझे
युद्ध ये सम्मान का है
मान रहना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए
मैं रहूं या ना रहूं
भारत ये रहना चाहिए

Manikarnika movie Songs: विजय भव Vijayi Bhava – Shankar Mahadevan


No comments:

Post a Comment